Skip to main content

.

Computer

What is Computer In Hindi. कंप्यूटर क्या है ? जानिए हिंदी में 


आज हम हिंदी में जानेगे की कंप्यूटर क्या है. कैसे काम करता है, और बहुत कुछ..

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक यंत्र है जो डाटा को प्रोसेस करता है और उसे सुरक्षित भी रखता है. जिसे हम कभी भी इस्तेमाल कर सकते हैं. या आप इस तरह भी कह सकते हैं कि कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है, जो हमारे निर्देश के हिसाब से काम करता है. हम जो भी निर्देश देते हैं वह डाटा के रूप में कंप्यूटर में जाता है और उसे हमारे निर्देश के हिसाब से प्रोसेस कर देता है. और वह डाटा कंप्यूटर के अंदर ही सेव हो जाता है.

यहां पर बहुत सी बातें जानना जरूरी है. कंप्यूटर क्या है इसे जानने के लिए बहुत छोटी छोटी बातें भी जानना आपके लिए जरूरी है. जो कि आपके आपकी पढ़ाई में या किसी भी कंपटीशन की पढ़ाई के लिए आपको जानना बहुत ज्यादा जरूरी है.




कंप्यूटर किन-किन चीजों से मिलकर बना होता है.

कंप्यूटर दो चीजों से मिलकर बना होता है एक होता है 
1 - हार्डवेयर (Hardware)
2 - सॉफ्टवेयर (Software) 

कंप्यूटर चलाने के लिए हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर दोनों का होना जरूरी है. अगर इनमें से कोई एक चीज भी नहीं है या इनमें से किसी एक चीज में भी खराबी है तो आप कंप्यूटर को नहीं चला सकते.

चलिए सबसे पहले हार्डवेयर को समझते हैं

1 - हार्डवेयर क्या है ? (What is Hardware)

कंप्यूटर बहुत सारी चीजों से मिलकर बना होता है जैसे कि मॉनिटर (Monitor), सीपीयू (CPU), माउस, कीबोर्ड  आदि. यह सब हार्डवेयर है, इन सब को मिलकर कंप्यूटर को बनाया जाता है. इसके अलावा भी बहुत सारी चीजें हैं जो आपके सीपीयू के अंदर लगी होती है. जैसे कि RAM, ROM, छोटे-छोटे डिवाइस, प्रोसेसर, मदरबोर्ड चार्जिंग के लिए बैटरी या फिर से चार्जिंग कनेक्टर सब हार्डवेयर के अंदर ही आते हैं.

कंप्यूटर के अंदर के पार्ट्स जो इंटरनल हार्डवेयर कहलाते है.

मदर बोर्ड     -   Motherboard 
सेंट्रल  प्रोसेसिंग  यूनिट  -   Central Processing Unit (CPU)
रैंडम  एक्सेस  मेमोरी  -   Random Access Memory (RAM)
हार्ड  ड्राइव    -    Hard Drive (HDD)
वीडियो  कार्ड   -   Video Card
ऑप्टिकल  ड्राइव  -    Optical Drive
पावर  सप्लाई    -   Power Supply
कार्ड  रीडर   -   Card Reader 


कंप्यूटर के बाहरी पार्ट्स जो एक्सटर्नल हार्डवेयर कहलाते है 

मॉनिटर -  Monitor
कीबोर्ड -  Keyboard 
माउस -  Mouse
प्रिंटर -  Printer
स्पीकर्स -  Speakers
फ़्लैश ड्राइव - Flash Drive
एक्सटर्नल हार्ड ड्राइव -  External Hard Drive
पेन टेबलेट -  Pen Tablet

1 - सॉफ्टवेयर क्या है ? (What is Software)

हार्डवेयर की सहायता से कंप्यूटर बन जाता है, लेकिन कंप्यूटर को चलाने के लिए सॉफ्टवेयर की जरूरत होती है. सबसे पहले कंप्यूटर में एक ऑपरेटिंग सॉफ्टवेयर डाला जाता है. इसे विंडो (Window ) कहते हैं. जैसे आपने देखा होगा की जब आप कंप्यूटर का बटन दबाते हैं तो वहां विंडो एक्स-पी (Window -XP) या विंडो लिखकर आता है. यह एक ऑपरेटिंग सिस्टम है.

Window  सॉफ्टवेयर के बिना कंप्यूटर नहीं चल सकता. मार्केट में दो ही ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System) उपलब्ध है. एक Window है जो Microsoft Company  का है और दूसरा Apple Company एप्पल कंपनी का है. जब कंप्यूटर में Window सॉफ्टवेयर इंस्टॉल हो जाता है तो उसके बाद भी हमे बोहत सरे सॉफ्टवेयर के ज़रूरत पार्टी है. अपने काम के अनुसार बाकी इस पर जो भी काम करेंगे उसको अलग अलग टाइप के सॉफ्टवेयर की जरूरत पड़ेगी. जैसे अगर आपको अपना CV बनाना है तो उसके लिए आपको Microsoft Office का इस्तेमाल करना पड़ेगा. इसमें माइक्रोसॉफ्ट वर्ड (Microsoft Word) होता है जिस पर आप कुछ भी लिख सकते हैं.  


सॉफ्टवेयर दो प्रकार के होते हैं.

1 - सिस्टम सॉफ्टवेयर - (System Software)
2 -  एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर  (Application Software)

1 - सिस्टम सॉफ्टवेयर - (System Software)

System Software वह सॉफ्टवेयर है जो आपके सिस्टम को चलाने के लिए सबसे पहले जरूरी है. इसका अर्थ यह है कि उसके बिना आपका सिस्टम चलेगा ही नहीं. जैसे कि जब आपको एक कंप्यूटर दिया जाता है तो सबसे पहले उसमें Window Software डाला जाता है. क्योंकि विंडो सॉफ्टवेयर डाले बिना वह सिस्टम चलेगा ही नहीं. इन Software को Operating Software कहा जाता है. जैसे
1 - Window ( Window के बोहत सारे वर्सन है )
2 - MAC OS, IOS.


* Window Microsoft Company का है, और ज़ादा तर यह आप को हर कंप्यूटर में मिलेगा.

* MAC or IOS ( यह Apple Company का  है, और ये सिर्फ Apple के कंप्यूटर में ही चलता है).


2 -  एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर  (Application Software)

जब आपके कंप्यूटर में सिस्टम सॉफ्टवेयर इंसटाल हो जय तो आप बोहत सरे काम इस पर कर सकते है, जैसे इंटरनेट चलना, डेस्कटॉप मैनेज करना, लकिन ज़ादा तर काम करने के लिए आप को  Application Software की आवशकता पड़ेगी, जैसे अगर आप को कोई लेटर लिखना है, तो आप को Microsoft Office इनस्टॉल करना होगा तभी आप कुछ लिख सकते है, इसे तरह बोहत सरे एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर है जिसकी आप को ज़रूरत पड़ेगी. 



अगर आप को यह जानकारी अच्छी लगे तो हमे कमेंट में ज़रूर लिखे.


Comments

Popular posts from this blog

English में अपना परिचय कैसे दें. Self-Introduction In Hindi To English.

English में अपना परिचय कैसे दें? Self Introduction In English आज हम आपको बताएंगे कि आपको बहुत ही आसानी से अपना परिचय कैसे देना है. इस Article में हम आपको बताएगें की "अपना परिचय कैसे दें हिंदी में और इंग्लिश में. अगर आप Job ढूंढ रहे है और आप को कही Interview के लिए जाते हो. तो आपसे सबसे पहला प्रश्न यही पूछा जाता है अपने बारे में कुछ बताएं। या अपना परिचय दे. इसे लिए आपका इस article को पूरा समझना ज़रूरी है. इस Article में दिये हुए सब sentence को आप याद कर के भी एक अच्छा interview दे सकते है. इस article को पड़ने के बाद आप को यह क्लियर हो जय गा   की Apna parechye Kaise de (How to introduce yourself )   Self-introduction In Hindi And English. Step By Step Introduction. Step 1..   अपना परिचय देने में सब से पहले आप बोलेगे गुड मॉर्निंग सर या मेडम। जो भी समय हो उस के अनुसार Good Morning Sir or Madam / Good After Noon Sir or Madam / Good Evening Sir or Madam Step 2..  फिर आप उन का शुक्रया अदा करेगे. सब से पहले में आप का आभारी हु की आप ने मुझे यह मौका / अफसर दिया। (इन शब्दों के

Free Bulk Email ID List - 1000 Active Email Data For Free 200 To 400

Get Million Email ID For Your Email Marketing. Email data is required for digital marketing and your initial business to move digital. With the help of digital marketing, we can grow our business faster and faster.  For Bulk Email IDs . Whatsapp me at 9528989724 Free email database lists lot of free email database downloads in PDF. Free email marketing database for your digital marketing. You can get Free e mail database download from our website.  फ्री ईमेल डाटा कहा से निकाले | Free Email Data akhileshbhambhani@gmail.com akrajawat20@gmail.com aksandhu90@gmail.com akshayshahu000@gmail.com aloky836@gmail.com am27491@gmail.com amarjun7@gmail.com amarpritsingh1989@gmail.com amit.harbola11@gmail.com anandrungta27@gmail.com anandsingh3k@gmail.com aneeshbanyal2011@gmail.com anilsasmal15@gmail.com anoop971@gmail.com anuj8315@gmail.com arkindia4@gmail.com arunthakur0g19@gmail.com ashishvedula@gmail.com ashraf.btech406@gmail.com ashu.rock25@gmail.com ashu2712.priya@gmail.com atripathi27@gmail.c

Free Bulk Email ID List - 1000 Active Email Data For Free 1 To 200

अगर आप Email Marketing करते है या करना चाहते है, तो आपको लोगो को email करने पड़ते है जिससे आप की  Website or Business की marketing होती है. Email Marketing से हम बौहत अच्छी earning कर सकते है. लकिन problem यह है की हमे email id कैसे मिले। free bulk email id list कैसे मिले. Free Email List कहा से Download करे. इस website की सहायता से हम आप को ज़ादा से ज़ादा free email address database देंगे। अगर आप google पर search कर रहे है की email id list kahan se nikale. तो आप को कही और जाने की ज़रूरत नही है. आप इस Email database को कॉपी एंड पेस्ट कर के इस्तिमाल कर सकते है. For Bulk Email IDs . Whatsapp me at 9528989724 Aaradhykumar@gmail.com Aarhantkumar@gmail.com Aarishkumar@gmail.com Aaritkumar@gmail.com Aarivkumar@gmail.com Aarjavkumar@gmail.com Aarmankumar@gmail.com Aarnavkumar@gmail.com Aarnikkumar@gmail.com Aarogyakumar@gmail.com Aarpankumar@gmail.com Aarshinkumar@gmail.com Aarshkumar@gmail.com Aarthkumar@gmail.com Aarulkumar@gmail.com Aarunyakumar@gmail.com Aarushkumar@gmail.com Aarvkumar@gmail.

AM और PM क्या हैं? AM PM Full Form?

What is the full form of AM and PM? टाइम कैसे देखा जाता है, यह तो सब ही जानते है. लकिन क्या आप जानते है की टाइम को सुबह और शाम के हिसाब से अलग अलग तरह से लिखा जाता है.सुबह या शाम समझने के लिए टाइम को, सुबह के टाइम को AM को और शाम के टाइम को PM से समझा जाता है. जैसे सुबह को पांच बजते है और शाम को भी पांच बजते है. जब हम बात करते है तो हम बोल सकते है की सुबह के पांच बजे है या शाम के पांच बजे है. लकिन जब हम टाइम के बारे में लिखते है तो  इसे  थोड़ा अलग तरह से लिखा जाता है. आज हम इस article में आप को बताएगे की: AM PM क्या है? AM PM Meaning In Hindi.  AM and PM time क्या होता है? AM और PM की फुल फॉर्म क्या है ? 12 Hour Clock. 24 Hour Clock. 24 Hour Clock Chart. AM और PM की फुल फॉर्म क्या है ?  सबसे पहले समझते है की AM और PM की फुल फॉर्म क्या है ? What is the full form of AM And PM. AM full form is - Ante Meridiem - रात 12 बजे से दोपहर 12 बजे तक PM full form is - Post Meridiem -   दोपहर 12 बजे के बाद और रात को 12 बजे  तक AM PM क्या है? AM PM Meaning In Hindi.  AM – Ante Meridiem का मतलब होता

Call Center Job Interview में सबसे ज़ादा पूछे जाने वाले सवाल और उन के जवाब Hindi To English

Call Center Job Interview Question and Answer With Hindi To English Translation Here are the translations for the most common questions asked in call center jobs in Hindi to English: Question 1.  आपके पास कॉल सेण्टर का कितना अनुभव है? (How much experience do you have in call center?) Answer: I have 2 years of working experience with ABCD Company as a customer care executive. मेरे पास ABCD Company के साथ कस्टमर केयर एक्जीक्यूटिव के रूप में काम करने का 2 साल का अनुभव है। Question 2.  आप एक उत्सुक ग्राहक से कैसे निपटेंगे? (How will you deal with an angry customer?) Answer: When dealing with an angry customer, it's important to stay calm, listen actively, and empathize with their situation. Once you understand the issue, offer a sincere apology and work to find a solution that meets their needs. क्रोधित ग्राहक के साथ व्यवहार करते समय, शांत रहना, सक्रिय रूप से सुनना और उनकी स्थिति के साथ सहानुभूति रखना महत्वपूर्ण है। एक बार जब आप इस मुद्दे को समझ जाते हैं, तो ईमानदारी से क्षमा मांगें औ

SpO2 लेवल क्या है? | SPO2 Level की पूरी जानकारी हिंदी में

SPO2 Level Hindi | क्या है Pulse Oximeter? सब से पहले यह समझते है की Spo2 Kya hai और Spo2 Ke Full Form Kya Hai?  Full Form of SpO2 : Saturation of Peripheral Oxygen Spo2 की फुल फॉर्म है  - सेचुरेशन ऑफ़ प्रिफेरल ऑक्सीजन SPO2 से हमारे खून में कितने ऑक्सीजन है. इस का पता चलता है. इस के साथ साथ आप के Blood में कितना हीमोग्लोबिन ऑक्सीजन के साथ आप के शरीर में है. यह सब पता चल जाता है. इस का पता एक छोटी से मशीन से लगाया जा सकता है और इस के लिए आप अपना ब्लड चेकउप भी करा सकते है।  पहले हमे Spo2 के बारे में ज़ादा नही सुना था। लकिन जब covid19 बीमारी आयी है हमे इस के बारे में काफी जानकारी हासिल हुई है. इस के साथ साथ  Spo2 लेवल का पता होना भी ज़रूरी है इस से हम काफी बीमारयों से बच सकते है।   Human Body Me Oxygen Level Kitna Hona Chahiye? दोस्तों इस कोरोना महामारी के बारे में हम सब जानते ही है और इस समय में आप को कुछ बातो की जानकारी होना बहुत ज़रूरी है. पुरे देश में डॉक्टर दुवारा दिए गए निर्देशों का आपको पालन करना होगा। ताकि आप और आपके परिवार वाले सब सुरक्षित रहे। और सब नियमो का पालन भी करना है. इस सबके

Security Guard के इंटरव्यू में पूछे जाने वाले सबसे Important सवाल और उन के जवाब हिंदी To English

अगर आप Security Guard की जॉब के लिए अप्लाई कर रहे है तो आप इन सवालो को अच्छी तरह रट ले ताके आप सभी सवालो के सही से जवाब दे सके. अगर आप ने यह सरे सवालो को याद कर लिए तो आप को इंटरव्यू देने में बहुत उसने होगी यहां आपके लिए सुरक्षा गार्ड जॉब के लिए पूछे जाने वाले 20 महत्वपूर्ण सवाल हैं: Top 20 Questions and Answer for Security Guard Interview. 1. आपका पूरा नाम क्या है? What is your name? Answer: My Name is Amit Yadav. 2. आपकी उम्र क्या है? How old are you? Answer: I am 28 years old. 3. आपने किस तरह की शैक्षणिक योग्यता हासिल की है? What kind of education have you done? Answer: I am Science or Art, Graduate. 4. आपके पास सुरक्षा संबंधी कोई प्रशिक्षण है? Do you have any training for security purposes? Answer: Yes, I have undergone training in security procedures, emergency response, and first aid. 5. आपने पहले कहीं भी सुरक्षा गार्ड का काम किया है? Have you ever worked as a security guard before? Answer: Yes/No. 6. आपके पास सुरक्षा सम्बंधित कोई लाइसेंस है? Do you have any licenses relate

मोबाइल से होने वाले 10 नुकसान | Mobile Side effects

Mobile Phone Top 10 Side Effects (Mobile Zada Istimal Se Hone Wale Das Nuksan)  आज मोबाइल हमारी एक जरूरत बन चुका है. जैसे कि आपने पहले सुना होगा की रोटी कपड़ा और मकान। यह तीन हमारी सब से ज़रूरी चीज़े थी. लेकिन अगर आप चाहें तो उसने मोबाइल का नाम ही दर्ज कर सकते हैं. क्योंकि मोबाइल हमारे जीवन की बहुत बड़ी जरूरत बन चुका है. मोबाइल सिर्फ बात करने के लिए ही नहीं बल्कि इंटरनेट से बहुत सारी सुविधाएं लेने के लिए, टाइम देखने के लिए, अलार्म लगाने के लिए, वीडियो कॉल करने के लिए, वीडियो मैसेज करने के लिए, Chat करने के लिए, Mobile Application इस्तिमाल करने के लिए और इस के अलावा भी बहुत कुछ हम मोबाइल पर कर सकते है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि मोबाइल के इतने सारे फायदे होने के अलावा क्या इसकी कोई नुकसान की है. अगर आपने नहीं सोचा तो आज हम आपको इस आर्टिकल में मोबाइल से होने वाले बहुत सारे नुक़्सानो के बारे में बताएंगे। What are mobile side effects. इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप अपने बच्चों को और अपने आपको मोबाइल से होने वाले सभी नुकसान होते बचा सकेंगे 1 - Bacteria From Screen (Dangerous Decease): मोबाइ

कंप्यूटर में प्राइमरी और सेकेंडरी स्टोरेज डिवाइस क्या हैं? Computer Primary and Secondary Storage

What are primary and secondary storage devices in computer? हमारा कंप्यूटर को डाटा इकठा करने के लिए कई अलग-अलग स्टोरेज का उपयोग करना पड़ता है. जैसे प्राथमिक स्टोरेज (Primary Storage) और सेकेंडरी स्टोरेज (Secondary Storage). प्राइमरी स्टोरेज को हम RAM - रैंडम एक्सेस मेमोरी के नाम से जानते है, और सेकेंडरी स्टोरेज, यह सेकेंडरी स्टोरेज कंप्यूटर के अंदर हार्ड ड्राइव को कहा जाता है.  RAM - Random Access Memory RAM  रैंडम एक्सेस मेमोरी में डाटा जब तक रहता है जब तक हमारा कंप्यूटर ON रहता है, जैसे ही कंप्यूटर ऑफ हुआ RAM का सारा डाटा चला जाता है. इसे लिए RAM को Volatile मेमोरी भी कहा जाता है. हार्ड ड्राइव HDD में डाटा एक बार स्टोर हो जय तो वो जब तक हम उसे Delete नही करते वो वही सेफ रहता है. हार्ड डिस्क ड्राइव हमारे कंप्यूटर के हार्डवेयर का ही पार्ट होती है. 95% कंप्यूटर में ये पहले से हे फिट होते है, क्यों के इस क बिना कंप्यूटर में कुछ भी स्टोर नही कर सकते. प्राइमरी स्टोरेज डिवाइस एक ऐसा संग्रहण यंत्र होता है जिसमें संग्रहित डेटा को कंप्यूटर की मेमोरी में संभाला जाता है। यह मेमोरी फिजि

CAT परीक्षा का क्या उद्श्ये है? CAT की फुल फॉर्म क्या है?

CAT Ke Full Form Kya Hai? (What is the full form of CAT) CAT Exam के बारे में समझने के लिए हमे सबसे पहले इस की फुल फॉर्म को समझ लेते है. CAT की फुल फॉर्म समझने के बाद हमे काफी कुछ समझ में आ जाएगा। CAT Stands For : Common Admission Test CAT का फुल फॉर्म है: कॉमन एडमिशन टेस्ट   CAT क्या है? (What is CAT?) CAT - Common Admission Test एक ऑनलाइन कंप्यूटर पर टेस्ट होता है जो बहुत सारे business schools का एक combined test होता है. यह एग्जाम साल में एक बार होता है. CAT Exam IIM Institute के द्वारा कराया जाता है. IIM के द्वारा ही इस की डेट भी Fix की जाती है. CAT Application Mode ऑनलाइन ही होता है. आप को इस के लिए Online   ही Apply करना पड़ता है. CAT - Common Admission Test में बहुत सारे student बैठते है और यह एक बहुत high level का एग्जाम होता है. बिना तैयारी इसे clear करना मुश्किल है. CAT एग्जाम में टोटल 100 सवाल आते है. यह 3 भागो में बटा हुआ होता है और यह 300 अंक का होता है. हम यह एग्जाम 180 मिनट्स में यानी 3 घंटे में पूरा करना होता है. इस के साथ साथ इस में negative marking भी होती